लक्ष्मण झा "सागर"

मैथिली विकिपिडियासँ, एक मुक्त विश्वकोश
Jump to navigation Jump to search

लक्ष्मण झा "सागर" 1953-

"उचरि बैसू कौआ" मैथिली कविता संग्रह प्रकाशित। लक्ष्मण झा ‘सागर’

२. जन्‍म– ०१.०४.१९५३

३. पिताक नाम– श्री तारकेश्‍वर झा उर्फ श्री मोला झा

४. मायक नाम– स्‍व. गंगादेवी

५. गामक पता– ठढ़बितिया, घोघरडीहा, मधुबनी (बिहार)

६. स्‍थाई पता– ३बी, तिस्‍ता अपार्टमेंट ९४, एवेन्‍यू साउथ रोड संतोषपुर,कोलकाता-६५ (पच्छिम बंगाल)

७. दूरभाष (आवास)– ०३३-२४१६६४१८

८. मोबाइल–०९४३२५–४५३४९

९. आजिविका–रूपा एण्‍ड कंपनीक इस्‍पात संयन्‍त्र इकाईमे वरिष्‍ट क्रय प्रबन्‍धकक पद पर कार्यरत- - कोलकातामे।

१०. रुचि-साहित्यिक आ सामाजिक सरोकारसँ जुड़ल रहबाक।

११. अरुचि– मैथिलीक नाम पर अनर्गल आ अनसोंहाँत क्रिया-कलाप।

१२. रचानाधर्मिता- १९६८सँ मैथिलीक विभिन्‍न विघापर मैथिलीक विभिन्‍न पत्रिका सममे रचना - प्रकाशित होइत रहल अछि (बीचमे १९८३–१९९६ छोडि़केँ)। चारिटा पोथीक (कविता, कथा, - निबन्‍ध विविधा) प्रकाशन योग्‍य सामग्री उपलब्‍ध। छपेबाक जोगार नहि। प्रकाशक लोकनिक - खोज जारी।

१३.सेहेन्‍ता–मिथिलांचलक समस्‍त (कन्‍वेंट छोडि़केँ) प्राथमिक विधालयसँ लऽकेँ उच्‍च माध्‍यमिक - विघालयमे पढ़ौनीक माध्‍यम मैथिली मात्र मैथिलीए ता होइतैक।