जग्गी वासुदेव

मैथिली विकिपिडियासँ, एक मुक्त विश्वकोश
एतय जाए: भ्रमण, खोज
सद्गुरु जग्गी वासुदेव
Sadhguru-Jaggi-Vasudev.jpg
जन्म (१९५७-०९-०३)३ सितम्बर १९५७
मैसूर, भारत


जग्गी वासुदेव (जन्म : ३ सितम्बर, १९५७) एक योगी, सद्गुरु आ दिव्‍यदर्शी छी। हुनका 'सद्गुरु' सेहो कहल जाइत अछि। ओ ईशा फाउन्डेशन (अंग्रेजी: Isha Foundation) नामक लाभरहित मानव सेवी संस्‍थानके संस्थापक छी। ईशा फाउन्डेशन भारत सहित संयुक्त राज्य अमेरिका, इंग्लैंड, लेबनान, सिंगापुर आर ऑस्ट्रेलियामे योग कार्यक्रम सिखाबैत अछि सँग सँगे बहुतो सामाजिक आ सामुदायिक विकास योजनासभ पर सहो काज करैत अछि। हिनका संयुक्त राष्ट्रके आर्थिक आ सामाजिक परिषद (अंग्रेजी: ECOSOC)मे विशेष सलाहकारक पदवी प्राप्‍त अछि।[१] हुनका द्वारा ८ भाषासभमे १०० सँ अधिक पुस्तकसभक रचना कएल गेल अछि।


प्रारम्भिक जीवन[सम्पादन करी]

सद्गुरु जग्गी वासुदेवक जन्‍म ३ सितम्बर १९५७ कऽ कर्नाटक राज्‍यके मैसूर शहरमे भेल छल। हुनकर पिता एक डॉक्टर छ्लाह। बालक जग्‍गीकऽ प्रकृतिसँ खूब लगाव छल। पहिने ऐहन होइत छल ओ किछ दिनक लेल जंगलमे गायब भऽ जाइत छ्लाह, जहिठाम ओ वृक्षक ऊँच डारि पर बैठिकऽ हवाक आन्नद लेबैत आ अनायास ही ध्‍यानमे लिन् भऽ जाइत छलाह। जखन ओ घर आबैत छल तखन हुनकर झोली (पोटरी) साँपसभसँ भरल होइत छल जिनका पकड़ैमे हुनका महारत हासिल छल। ११ वर्षक कम उम्रमे जग्गी वासुदेव द्वारा योगक अभ्यास करनाई शुरु केलक। हिनकर योग शिक्षक छलाह श्री राघवेन्द्र राव, जिन्का मल्‍लाडिहल्‍लि स्वामीके नामसँ जानल जाइत अछि। मैसूर विश्‍वविद्यालयसँ ओ अंग्रजी भाषामे स्‍नातकक उपाधि प्राप्‍त कएने अछि।[२]

आध्यात्मिक अनुभव[सम्पादन करी]

२५ वर्षक उमरमे अनायास ही बड़ विचित्र रूपसँ, हिनका गहन आत्‍म अनुभूति भेल, जहिसँ हिनकर जीवनक दिशा कऽ बदलि देलक। एक दिन, जग्गी वासुदेव मैसूरमे चामुन्डी पहाड़िसभ पर चढ़ल आ एक चट्टान पर बैठि गेल। तखन हिनकर आंखि पूरा खुलल छल। अचानक, हिनका शरीरसँ अलगक अनुभव भेल। हिनका लागल कि ओ अपन शरीरमे नै, रहि हरेक जगह फैलि गेल छी, चट्टानमे, वृक्षमे, पृथ्वीमे। अगला किछ दिनमे, हिनका ई अनुभव बहुतो बेर भेल आ हरेक बेर एहिसँ परमानन्दक स्थितिमे छोड़ि जाइत। एहि घटनासँ हिनकर जीवन शौली कऽ पूरा बदलि देलक। जग्गी वासुदेव द्वारा अही अनुभवसभक बाँटऽके लेल अपन पूरा जीवन समर्पित करकऽ फैसला कएल गेल। ईशा फाउन्डेशनक स्‍थापना आ ईशा योग कार्यक्रमसभक शुरुआत अहि उद्देश्‍य प्राप्तिक लेल कएल गेल तकि ई सम्भावना विश्‍वकऽ अर्पित कएल जा सकि।

ईशा फाउन्डेशन[सम्पादन करी]

ईशा योग केन्द्र[सम्पादन करी]

ध्यानलिङ्ग योग मन्दिर[सम्पादन करी]

सन्दर्भ सामग्रीसभ[सम्पादन करी]

बाह्य जडीसभ[सम्पादन करी]

एहो सभ देखी[सम्पादन करी]