भगवान दास

मैथिली विकिपिडियासँ, एक मुक्त विश्वकोश
Jump to navigation Jump to search
भगवान दास
भगवान दास
जन्म तारीख: जनवरी १२, १८६९
म्रुत्यु तारीख: सितेम्बर १८, १९५८
दार्शनिक
उपलब्धिसभ: भारत रत्न से सम्मानित

डाक्टर भगवानदास (१२ जनवरी १८६९ - १८ सितम्बर १९५८) भारत के प्रमुख शिक्षाशास्त्री, स्वतंत्रतासंग्रामसेनानी, दार्शनिक एवं कतेक संस्थासभक संस्थापक छल।

ओ डक्टर एनी बेसेन्ट के साथ व्यवसायी सहयोग केलक, जे बाद मे सेन्ट्रल हिन्दू कलेज क स्थापना क प्रमुख कारण बनल। सेन्ट्रल हिन्दू कलेज, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय क स्थापना क मूल अछि। बाद मे ओ काशी विद्यापीठ क स्थापना केलक आ ओतय ओ प्रमुख अध्यापक सेहो छल। डक्टर भगवान दास हिन्दी आ संस्कृत मे ३० से अधिक पुस्तकसभ क लेखन केने अछि।

जीवन परिचय[सम्पादन करी]

डक्टर भगवान दास क जन्म १२ जनवरी १८६९ ई. मे उत्तर प्रदेश के वाराणसी मे भेल छल। ओ वाराणसी के समृद्ध साह परिवार के सदस्य छल। सन्‌ १८८७ मे ओ १८ वर्ष क अवस्था मे पाश्चात्य दर्शन मे एम.ए. क उपाधि प्राप्त केलक। १८९० से १८९८ तक उत्तर प्रदेश मे विभिन्न जिला मे मजिस्ट्रेट के रूप मे सरकारी नौकरी करैत रहल। सन्‌ १८९९ से १९१४ तक सेन्ट्रल हिन्दू कलेज के संस्थापक-सदस्य आ अवैतनिक मंत्री रहल। १९१४ मे एही कलेज काशी विश्वविद्यालय के रूप मे परिणत करि देल गेल।

जीवन परिचय[सम्पादन करी]

दर्शन[सम्पादन करी]

मनोविज्ञान[सम्पादन करी]

वैयक्तिक सामाजिक संगठन[सम्पादन करी]

धर्मविज्ञान[सम्पादन करी]

सन्दर्भ सामग्रीसभ[सम्पादन करी]

बाह्य जडीसभ[सम्पादन करी]

एहो सभ देखी[सम्पादन करी]