विंध्यवासिनी मंदिर

मैथिली विकिपिडियासँ, एक मुक्त विश्वकोश
Jump to navigation Jump to search
माता विन्ध्यवासिनी
फाइल:Bindhya.jpg
नेपालक पोखरा कs विन्ध्यवासिनी मन्दिर

'भगवती विंध्यवासिनी आद्या महाशक्ति अछी । विन्ध्याचल सदा सं हुनकर निवास-स्थान रहल अछी । जगदम्बा कs नित्य उपस्थिति सं विंध्यगिरि कs जाग्रत शक्तिपीठ बना देएने अछि । महाभारतक विराट पर्व मs धर्मराज युधिष्ठिर देवी कs स्तुति करति कहति अछि की - विन्ध्येचैवनग-श्रेष्ठे तवस्थानंहि शाश्वतम्। हे माता! पर्वतों मs सं श्रेष्ठ विंध्याचलपर आहा सदैव विराजमान रहति छी । पद्मपुराण मs विंध्याचल-निवासिनी यी महाशक्ति कs विंध्यवासिनी कs नाम सं संबंधित कएल गेल छै - विन्ध्येविन्ध्याधिवासिनी।

मन्त्रशास्त्र कs सुप्रसिद्ध ग्रंथ शारदातिलक मs विंध्यवासिनी वनदुर्गा कs नाम सं यह ध्यान बतावोल गएल अछि -

सौवर्णाम्बुजमध्यगांत्रिनयनांसौदामिनीसन्निभां
चक्रंशंखवराभयानिदधतीमिन्दो:कलां बिभ्रतीम्।
ग्रैवेयाङ्गदहार-कुण्डल-धरामारवण्ड-लाद्यै:स्तुतां
ध्यायेद्विन्ध्यनिवासिनींशशिमुखीं पा‌र्श्वस्थपञ्चाननाम्॥



एकरो देखू[सम्पादन करी]