शरतचन्द्र चट्टोपाध्याय

मैथिली विकिपिडियासँ, एक मुक्त विश्वकोश
Jump to navigation Jump to search
शरतचन्द्र चट्टोपाध्याय
Sarat Chandra Chattopadhyay
Sarat Chandra Chattopadhyay.jpg
जन्म (१८७६-०९-१५)१५ सितम्बर १८७६
देवानन्दपुर, देवानन्दपुर, पश्चिम बङ्गाल
मृत्यु १६ जनवरी १९३८(१९३८-०१-१६) (६१ वर्ष)
कोलकाता, पश्चिम बङ्गाल, भारत
उपनाम अनिला देवी
पेशा लेखक
राष्ट्रियता भारतीय
अवधि १९अम शताब्दी
शैली उपन्यासकार

शरतचन्द्र चट्टोपाध्याय (१५ सितम्बर, १८७६ - १६ जनवरी, १९३८) बाङ्गलाके सुप्रसिद्ध उपन्यासकार छल। उनकर जन्म हुगली जिलाक देवानन्दपुरमे भेल। ओ अपन माता-पिताक नौ सन्तानमेसँ एक छल। अठारह सालक अवस्थामे ओ प्रवेश पास केलक। एही दिनमे ओ "बासा" (घर) नामसँ एक उपन्यास लिखने छल, परन्तु ई रचना प्रकाशित नै भेल। रवीन्द्रनाथ ठाकुरबम्किमचन्द्र चट्टोपाध्यायक ओही पर गहिरा प्रभाव पडल। शरतचन्द्र ललित कलाके छात्र छल लेकिन आर्थिक तंगी के चलते ओ ई विषयक पढाई नै करि सकल। रोजगारक तलाशमे शरतचन्द्र बर्मा गेल आ लोक निर्माण विभागमे क्लर्क के रूपमे काम केलक। किछ समय बर्मा रहिके कलकत्ता लौटेके बाद ओ गम्भीरताक साथ लेखन शुरू करि देलक। बर्मासँ लौटेके बाद ओ अपन प्रसिद्ध उपन्यास श्रीकान्त लिखैके शुरू केलक।[१]


प्रमुख कृतिसभ[सम्पादन करी]

प्रकाशित ग्रन्थ[सम्पादन करी]

उपन्यास[सम्पादन करी]

नाटक[सम्पादन करी]

गल्प[सम्पादन करी]

निबन्ध[सम्पादन करी]

सन्दर्भ सामग्रीसभ[सम्पादन करी]

  1. "संवेदनशील अमर रचनाकार शरतचन्द्र" (एचटीएम), वेबदुनिया।  |accessyear= प्यारामिटर नै ग्रहण केलक (सहायता); |accessmonthday= प्यारामिटर नै ग्रहण केलक (सहायता)

बाह्य जडीसभ[सम्पादन करी]

एहो सभ देखी[सम्पादन करी]